शुक्रवार, 29 अगस्त 2014

दीवार पे तस्वीर

मेरी तस्वीर को दीवार पे ऐसे है टाँगा,
जैसे नुमाईश का कोई नमूना-सा रक्खा ।

उस पर फिर फूल-मालाएँ दी इतनी हैं चढ़ा,
अब समझा हूँ! दिल में मेरे लिए थी हीं नहीं जग़ह ॥

#KeepMeInYourHeart #KeepMeInYourPrayers #KeepMeInYourMemory

मंगलवार, 26 अगस्त 2014

मम्मी की याद में

जाने साल कितने बीत गए, पर बात बस कल की लगती है।
रोटियाँ बनती हैं तवे पर अब भी, बस जलने वाले हाथ जुदा हैं॥

#MissYouMommy #20Years

सोमवार, 25 अगस्त 2014

दोहा - १

दीन-दुखी या पूँजीपति, थकते सबके पाँव।
बिन पूछे बूढ़ा पीपल, देता सबको छाँव॥

किस्मत

सोंचा था कि चाँदनी से रौशन कभी हमारा भी आँगन हो ।
पर अपने हक़ में तो बस तारों का टिमटिमाना है ॥

खिले थे फूल गुलशन में, था मौसम बहारों का ।
हवा के थपेड़ों ने हमें भेजा, वही पतझड़ पुराना है ॥

जले थे चराग बनकर हम, न जाने कितनी दयारों पर ।
जुगनुओं कि किस्मत में तो बस अंधेरे चुराना है ॥

दुआएँ माँगी थी दिल से, हमनें भी मजारों पर ।
क्या उनकी सुनता नहीं मौला, जो जगमगाते हैं ?


#TwinkleTwinkleLittleStar

रविवार, 24 अगस्त 2014

मेरा परिचय

किये थे वादे कभी खुद से, वो सारे तोड़ आए हैं।
बस दरिया हीं सहारा है, हम साहिल छोड़ आए हैं॥

रहते थे किसी बेज़ान बस्ती में हम भी कभी 'निश्छल'।
सयानों का वो मयखाना, वो महफ़िल छोड़ आए हैं॥

#GangaKeTeer #MeraParichay #Nishchhal

शनिवार, 23 अगस्त 2014

सपने

सुहाने सपनों के नज़ारे, न अब मेरे-तुम्हारे हैं।
आया था कभी एक तूफाँ, बहा के ले गया ॥


रविवार, 10 अगस्त 2014

रक्षाबंधन

ख़ुदा ने बहनों को ऐसी नेमत बख़्शी है,
उनकी डाँट भी दुआओं-सा असर करती है ।

#RakshaBandhan #SistersBlessings #PyarKaDhaga